Thursday, May 24, 2018
Home > Poet And Writer > डायरी क्यों लिखी जाती है ?

डायरी क्यों लिखी जाती है ?

How to Write a Diary Every Day

जीवन परिवर्तनशील और गतिशील है, हमारे जीवन अनुभव प्रतिदिन बढ़ते जाते हैं, जीवन के आरम्भिक दिनों में हमारे व्यक्तित्व को सुधारने एवम संवारने में डायरी लेखन से सहयोग मिलता है। How to Write a Diary Every Day.

इस समय में लिखी गई डायरी से भविष्य को सुधारने का मौका मिलता है इससे हमें अपने में हो रहे परिवर्तन का पता चलता है कि हमने अपने जीवन में क्या खोया और क्या पाया है, हम पिछले जीवन की अपेक्षा कितने गंभीर और परिपक्व हुए हैं यह सब डायरी लेखन से संभव हो पाया है। वस्तुतः डायरी हमारे बीते जीवन का सच्चा दर्पण है, व्यक्ति जीवन में घटी घटनाओं, विस्मृति से बचाने में तथा उसके भावी जीवन की आधारशिला बनाने के लिए ही डायरी लिखता है

Why is the diary written ?

डायरी लेखन की विशेषताएं :

  • डायरी लेखन से आत्मीय गुणों तथा प्रवृत्तियों की अभिव्यक्ति होती है।
  • डायरी में लेखक की भावना या संवेदनाओं का प्रकाशन होता है।
  • डायरी लेख में सभी लेखन विधियों का स्पर्श रहता है।
  • डायरी में लेखक की प्रामाणिक अभिव्यक्ति होती है।
  • डायरी लेखक समय-समय पर अतीत के अनुभवों की समीक्षा करता हुआ आगे बढ़ता है।

Why is the diary written ?

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *